ये कहानी एक ऐसी लड़की की है जिसने अपने पति के लिए सब कुछ छोड़ दिया और उसने कई सालों तक अपनी एक छोटी सी गलती का पश्च्याताप करती रही

तो आइए मैं और आप एक साथ मिलकर पढ़ते है की क्या थी सीमा की गलती और उसकी Love Story Kahani :

Love Story Kahani

नमस्ते दोस्तों आज मै एक बार फिर आप के बीच लेकर आया हूँ एक बेहद ही प्यारी Love Story kahani in Hindi तो इसे कृपया पूरा पढ़े और कैसी लगी ये कहानी जरुर बताये  

love story kahani
love story kahani

मेरा नाम सीमा है और ये बात है 3 साल पहले की, मेरी नयी-नयी शादी हुई थी वैसे तो मेरी Arranged Marriage थी लेकिन शादी से पहले मेरा एक बॉयफ्रेंड भी था जिसे मैं बहुत प्यार करती थी,

उसका नाम अविनाश था. शादी के बाद अभी एक महीना ही हुआ था कि मेरे पुराने बॉयफ्रेंड को मेरे ही ऑफिस में नौकरी मिल गयी मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ा

क्यूकि मेरी शादी हो चुकी थी लेकिन फिर भी पता नहीं मुझे क्या सूझा कि मैंने अविनाश से बात करनी शुरू कर दी, आखिर हम एक ही ऑफिस में तो थे.

Love Story Kahani in Hindi

एक दिन मैं ऑफिस के Washroom से निकल रही थी कि सामने अविनाश खड़ा था, वो मेरे करीब आया, आँखों में आँखे डाले मुझे घूर रहा था, वो मेरे और करीब आया और हमने एक दुसरे को Kiss किया

उस वक़्त पता नहीं मुझे क्या हो गया था, मैं शायद भूल गयी थी कि मैं शादीशुदा हूँ कुछ देर बाद मुझे थोड़ा होश आया और मैंने अविनाश को एकदम से अपने से दूर धक्का दिया और जा कर अपना काम करने लगी

अर्जुन ने मुझे बहुत समझाया लेकिन मुझे पता था कि शादी के बाद ये गलत है. मुझे इस बात का इतना अफ़सोस हुआ कि मैंने नौकरी छोड़ दी और फिर कभी ऑफिस नहीं गयी   

love story teri yaad aa rahi hai
love story teri yaad aa rahi hai

मुझे ये बात अंदर ही अंदर खाये जा रही थी कि मैंने अपने पति जिसका नाम नीरज है उसके साथ धोखा किया और यही बात मुझे दिन रात परेशान कर रही थी यूँही 3 महीने बीत गए

मुझे ऑफिस छोड़े अब 3 महीने होने को आये थे और मैंने सोचा क्यों ना मैंने अपने पति (नीरज) को सब सच सच बता दूँ

मैंने ठीक समय देख कर नीरज को सब बता दिया उस दिन नीरज शाम को ऑफिस से घर आये थे मैं डरी हुई थी लेकिन फिर भी हिम्मत करके उसे कहा “नीरज मुझे माफ़ कर दो”

नीरज : सीमा… किस बात की माफ़ी?

वो, मैं शादी के बाद भी एक लड़के के करीब आ गयी थी लेकिन वो सब एक गलती थी और मैं तुमसे माफ़ी मांगती हूँ मैं तुम्हे यकीन दिलाती हूँ कि कभी फिर ऐसा नहीं होगा

नीरज : तुमने मेरे साथ धोखा किया है सीमा, मैं घर छोड़ कर जा रहा हूँ।


hindi shayari love story
hindi shayari love story

मैंने कहा :- नीरज , Please ऐसा मत करो, वो सिर्फ एक गलती थी, मैं कभी ऐसा नहीं करुँगी मुझे बताओ कि मैं ऐसा क्या करू कि तुम्हे मना सकू?”

नीरज : तुम्हे मेरी माफ़ी कमानी पड़ेगी सीमा और ये तो वक़्त बताएगा कि मैं तुम्हे माफ़ कर पाऊंगा या नहीं 

उस दिन के बाद नीरज का व्यवहार मेरे लिए बदल गया, वो प्यार वो मेरी चिंता करना सब ख़त्म

नीरज  ने मुझे मेरे दोस्तों से मिलने तक के लिए मना कर दिया वो मुझे हर बात पर टोकने लगा कि ये करो, ये ना करो और मैं भी नीरज की माफ़ी पाने के लिए, उसे खुश करने के लिए ये सब सहती रही

मैं नीरज  के लिए हर रोज़ उसके पसंद का खाना बनाती थी ताकि वो एक बार मेरी तरफ मुस्कुराकर देख ले, हर वक़्त उससे मुस्कुरा कर बात करने की कोशिश करती थी ताकि उसका मूड ख़राब ना हो लेकिन मेरी सभी कोशिश नाकाम थी


Love Story Kahani Hindi Me

इसी तरह 3 साल बीत गए और नीरज  के व्यवहार में कोई फर्क नहीं आया

एक दिन मुझे तेज़ बुखार हो गया, मैं बिस्तर पर पड़ी थी और मैंने नीरज को फोन किया और उसे कुछ दवाईयां लाने को कहा 

नीरज : (गुस्से में) तुम्हे पता नहीं कि मैं ऑफिस में हूँ, दवाईयों की इतनी ज़रूरत है तो खुद बाजार जा कर ले आओ

उस दिन मुझे एहसास हुआ कि माफ़ी तो दूर की बात है नीरज के दिल में मेरे लिए थोड़ी सी दया भी नहीं है मैं उदास टूटे हुए दिल से अपनी ज़िन्दगी के बारे में सोचने लगी
  
love story hindi mein
love story hindi mein

फिर कुछ दिनों बाद मैंने सोचा कि मैं सब कुछ भुला दूँगी और एक दिन मैं बड़े अच्छे मूड में बाज़ार घूमने के लिए गयी बाजार के एक रेस्टोरेंट में मैंने देखा कि मेरे पति एक औरत के साथ बांहो में बाहें डाल बैठे है


मेरा दिल एक बार फिर टूट गया, जिस आदमी के लिए मैंने इतने साल अफ़सोस किया वो तो किसी और के साथ रंग-रलियां मना रहा था

मैंने घर आकर नीरज का लैपटॉप देखा तो हैरान रह गयी नीरज कई लड़कियों के साथ रिलेशन में था और यही नहीं वो मुझे शादी से पहले से ही धोखा दे रहा था उस दिन मैंने सोचा कि अफ़सोस और प्रायश्चित करने की ज़िद ने मुझे अँधा कर दिया था

मैंने इतने साल उस व्यक्ति पर गंवाएं जो मुझे प्यार ही नहीं करता मैं तो उसके लिए सिर्फ घर का काम करने वाली एक बाई की तरह ही थी उस दिन मुझे एहसास हुआ कि मुझे सिर्फ अपने दिल की आवाज़ सुननी चाहिए थी 

Love Story Hindi Kahani 

मैंने अपनी ज़िन्दगी के इतने साल नीरज के साथ बर्बाद कर दिए उस दिन के बाद मैंने कभी नीरज के बारे में नहीं सोचा अब मैं अपनी ज़िन्दगी में खुश हूँ और इससे ज़्यादा मैं कुछ नहीं चाहती

मुझे आदत नहीं
यूँ हर किसी पे मर मिटने की
पर तुझे देखकर दिल ने
सोचने तक की मोहलत ना दी


इसी के साथ  मैं आपसे विदा लेता हूँ दोस्तों कैसी लगी ये Pyar Wali kahani कमेंट करके जरुर बताये, अगर आपको ये कहानी जरा सी भी पसंद आई हो तो इसे जरूर शेयर करे और ऐसी ही पोस्ट पढ़ने के लिये हमे Follow  करे  

इन्हे भी पढ़े :-